Breaking

Tuesday, February 5, 2019

गुलाब का फूल खाने के फायदे जानकारी | Gulab Ke Fayde Hindi Me

Gulab Ke Fayde Hindi Me - यूँ तो फूलों के राजा गुलाब के पौधे से सभी सुपरिचित होंगें | फिर भी कुछ खास  बातें यहाँ पर बताना उपयोगी होगा | एशियाई देशों में सिंगापूर और थाईलैंड फूलों व पौधों को निर्यात करने में अग्रणी हैं | इस पौधे की मूल उत्पत्ति सीरिया, इरान से हुई हैं | गुलाब की अनेक किस्में होती हैं, जिन पर अनेक रंगों के पुष्प खिलते हैं | आमतौर पर इसका पौधा उचाई में 4-6 फुट का होता हैं | तने में असमान कांटे लगे होते हैं और पत्तियां प्राय: 5 मिली हुई होती है | बहुतायक में मिलने वाला पुष्प गुलाबी रंग का होता है | फल अंडाकार लगते है | मार्च-अप्रैल में फूलो की बहार आती है और फूलों से इत्र व गुलकंद व्यापक रूप से बनाया जाता है |

गुलाब का फूल खाने के फायदे जानकारी | Gulab Ke Fayde Hindi Me

लेकिन यह सिर्फ खूबसूरत फूल ही नहीं है, बल्कि कई तरह के औषधिय गुणों से भी भरपूर है। गुलाब की सुगंध ही नहीं इसके आंतरिक गुण भी उतने ही अच्छे हैं। इसके फूल में कई रोगों के उपचार की क्षमता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे ही उपयोगों के बारे में..

Gulab Ke Fayde Hindi Me

  • गुलाब की कुछ पंखुड़ियां पीसकर समान मात्रा में मलाई मिलाकर होंठों पर नियमित लगाना चाहिए। इससे होंठों का कालापन दूर होता है।
  • गुलाब के फूल की पंखुड़ियां चबाने या उन्हें उबालकर बनाए गए काढ़े से गरारा करने से मुंह के छाले ठीक होते हैं।
  • गुलाब में विटामिन सी बहुत मात्रा में पाया जाता है। गुलकंद रोज खाने से हड्डियां मजबूत हो जाती है। 
  • रोजाना एक गुलाब खाने से टी.बी के रोगी को बहुत जल्दी आराम मिलता है।
  • 10 ग्राम गुलाब की पंखुड़ियां 2 इलायची के साथ चबाने से सिर का दर्द ठीक हो जाता है।
  • गुलाब का रस पीने सए कब्ज़ दूर हो जाती है। यह आंतों में जमे हुए मल को बाहर निकाल देता है।
  • गुलाब के औषधीय गुण यौन शक्ति के लिए भी लाभदायक हैं। गुलाब की कलियां चबाकर खाने से यौन शक्ति बढ़ती है।
  • कान में दर्द होने पर गुलाब की पत्तियों के रस की थोड़ी बूंदे कान में डालने से कान के दर्द में राहत मिलेगी।
  • गुलाब के अर्क में नींबू का रस मिलाकर दाद पर लगाने से दाद ठीक हो जाता है।
  • जी मिचलाना, गले में जलन, सीने में जलन जैसे रोगों को दूर करने के लिए 1 कप गुलाबजल, चैथाई कप संतरे का रस और चौथाई कप चूने का पानी को मिलाकर दिन में 2 बारी सेवन करें। आपको इन रोगों से निजात मिल जाएगी।

loading...

1 comment:

  1. गुलाब के औषधीय गुण और चमत्कारिक लाभ आप को चौंका देंगे। गुलाब फूल सजावट वस्तु से कहीं अधिक एक आयुर्वेदिक औषधि है। आइए गुलाब के इन्हीं गुणों से परिचित हों।


    https://www.youtube.com/watch?v=IVSLdAAgNU0

    ReplyDelete